आईपीओ के नुकसान: जानिए क्या है IPO के नुकसान, क्या IPO में इन्वेस्टमेंट करना चाहिए?

5/5 - (1 vote)

इस साल IPO मार्केट में जबरदस्ती हलचल है। आईपीओ के जरिए आप किसी कंपनी में इन्वेस्टमेंट करके प्रॉफिट कमाकर अपना फायदा कर सकते हैं लेकिन किसी आईपीओ में इन्वेस्टमेंट करने के फायदे हैं तो उसके नुकसान भी हैं। जिसके बारे में आपको जरूर पता करना चाहिए। इसलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको आईपीओ से इन्वेस्टमेंट में होने वाले नुकसान के बारे में डिटेल्स में बताते हैं जिससे आप आईपीओ के नुकसानसे बच सकते हैं।

क्या हैं आईपीओ के नुकसान?

आईपीओ में इन्वेस्टमेंट करने के अपने कई फायदे हैं तो इसके नुकसान भी हैं। आईए आईपीएल में होने वाले नुकसान को एक-एक करके डिटेल्स में बताते हैं।

1.ग्रे मार्केट प्रीमियम में उतार चढ़ाव-आईपीओ के नुकसान में सबसे पहला कारण होता है कि, अगर आप किसी आईपीओ में उसके ग्रे मार्केट प्रीमियम देखकर निवेश करते हैं तो आपको यह समझना चाहिए कि जीएमपी एक अनऑफिशियल डाटा होता है जो कभी भी बदलता रहता है। जरूरी नहीं की कोई कंपनी ग्रे मार्केट में 60% क एमपी पर ट्रेड कर रहा है तो उसकी लिस्टिंग भी 60% के ऊपर ही हो। जीएमपी पर कभी भी विश्वास नहीं करना चाहिए।

2.आईपीओ का अलॉटमेंट ना होना- किसी आईपीओ के नुकसान का एक कारण अलॉटमेंट भी है। अगर आप किसी आईपीओ के लिए अप्लाई करते हैं और आपको अलॉटमेंट नहीं होता है तो तो आपका पैसा ऐसे ही फालतू में 7 दिनों के लिए फंस जाता है। आपको पैसे का नुकसान नहीं होता है लेकिन पैसा लगभग 5 से 7 दिन तक फंस जाता है फिर 5 से 7 दिन बाद ही आपका पैसा आपके खाते में रिफंड होता है।

ना करें PAN को लेकर यह गलती

आईपीओ के नुकसान में हम आपको बता दें कि, कई इन्वेस्टर्स से जिनके पास एक से ज्यादा डिमैट अकाउंट हैं वह यही सोच कर सभी अकाउंट से अप्लाई कर देते हैं कि शायद इससे उनका IPO लगने की संभावना बढ़ जाती है, लेकिन ध्यान रखें कि इससे आपका अप्लाई खारिज हो सकता है। डिमैट अकाउंट का अलग-अलग पैन कार्ड से होना जरूरी है। IPO लगने की संभावना बढ़ाने के लिए आप अपने परिवार के लोगों के पैन वाले डिमैट अकाउंट से अप्लाई कर सकते हैं।

जरूर डालें और RHP पर नजर

जिस तरह किसी कंपनी में इन्वेस्टमेंट करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी है, उसी तरह किसी कंपनी की आईपीओ में इन्वेस्टमेंट करने से पहले उस कंपनी के बारे में पूरी जानकारी कर लेनी चाहिए। यह जान लेना जरूरी है कि कंपनी मुनाफा बना रही है या नहीं। उसका पिछले कुछ सालों का रिकॉर्ड कैसा रहा है, वह किन राज्यों या देश में कार्यरत है। आईपीओ के नुकसान में बता दें कियह सब कुछ RHP को देखने से मालूम हो जाएगा।

किन इन्वेस्टर्स को होता है नुकसान?

आमतौर पर आईपीओ से ऐसे लोगों को ज्यादा नुकसान होता है जो एक्साइड होते हैं। ऐसे इन्वेस्टर कुछ आईपीओ के परफॉर्मेंस या इससे किसी अपने यार दोस्त की कमाई को देखकर आईपीओ में पैसा लगाने के लिए कूद पड़ते हैं। ऐसे में नुकसान होने का जोखिम बना रहता है। शेयर बाजार हमेशा अनुमान के मुताबिक नहीं चलता है अगर लिस्टिंग नीचे हुई तो इन्वेस्टर्स का पैसा फंस जाता है या फिर उसे आईपीओ के नुकसान में ही इसे निकालना पड़ता है।

यह भी पढ़ें-

Leave a Comment